सरकारी अस्पताल में चूहों का आतंक, 4 दिन के मासूम का कुतरा हाथ

नई दिल्ली ( 13 जून ): अभी तक हम घर में कपड़े या अन्य चीजों को ही चुहों को कतरते देखा है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि अस्पताल में बच्चे के हाथ को ही चुहों ने कुतर डाला। जी हां राजस्थान के बांसवाड़ा के सरकारी एमजी अस्पताल के जननी वार्ड में सोमवार को 4 दिन के नवजात बच्चे के हाथ को चूहों ने बुरी तरह कुतर दिया। तब वार्ड में बिजली सप्लाई भी बंद थी। बाद में जब बिजली आई तो लहू-लुहान हाथ देखकर घटना का पता चला।

चंदूजी का गढ़ा गांव की रहने वाली प्रियंका नाम की एक महिला ने 4 दिन पहले इस अस्पताल में उसने बेटे को जन्म दिया। सोमवार तड़के करीब 5 बजे चूहों ने बेटे का हाथ जख्मी कर दिया था। उसके हाथ में कई जगह चूहों ने कुतरा था। इस घटना के बाद वार्ड में मौजूद सभी नवजातों के परिजन सकते में गए। कुछ तो चूहों के आतंक के चलते दिनभर नवजात के पास ही निगरानी करते रहे।

अस्पताल में चूहों के मरीज को कुतरने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी ट्रोमा वार्ड में भर्ती मरीज और उनके सामान को कुतरने की आए दिन शिकायतें बनी रही है। यहां दिन में भी चूहे उछल-कूद करते नजर जाते हैं। इससे कई बार ऑक्सीजन देने वाली मशीन की नली कुतरने का भी खतरा बना रहता है।