आशिक के साथ मिलकर मां ने किया 17 साल के बेटे का कत्ल

नई दिल्ली (21 मई): गुरदासपुर के रजादा गांव में एक मां ने आशिक के साथ मिलकर 17 साल के बेटे को करंट लगाकर मार डाला। पति के पहुंचने से पहले ही बेटे का अंतिम संस्कार कर अस्थियां भी बहा दीं। पुलिस ने तफ्तीश के बाद आरोपियों को पकड़ लिया है। 

पुलिस की गिरफ्त में मौजूद इस शख्स की करतूत हैरान करने वाली है। पेशे से ज्योत्षी सुनील कुमार हिमाचल का रहने वाला है जो पंजाब के गुरदासपुर में लोगों का भविष्य बताते बताते पहले तो पूर्व सैनिक की पत्नी रणजीत कौर को प्रेम जाल फंसा लिया फिर दोनों के बीच अवैध संबंध बन गए और जब रणजीत कौर के बेटे को इसकी भनक लगी तो करंट लगाकर मार डाला।

पूर्व सैनिक की पत्नी रणजीत कौर इस ज्योतिषी के पास अपना भविष्य दिखाने जाती थी लेकिन सुनील की नजर भविष्य पर कम और रणजीत कौर पर ज्यादा थी। दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी और सुनील को जैसे ही वक्त मिलता रंग रलियां मनाने रणजीत कौर के घर पर पहुंच जाता था। एक दिन रणजीत कौर के 17 साल के बेटे रोहित ने आपत्तिजनक हालत में दोनों को देख लिया, फिर जो हुआ काफी खैौफनाक था।

गुनाह छिपाने के लिए सुनील और रणजीत कौर ने मिलकर ऐसी साजिश रची कि दुनिया के सामने ये हत्या करंट से मौत बनकर चर्चा में आई, लेकिन इस मौत के रहस्य से पर्दा उठना अभी बाकी था। अपने बेटे की मौत की खबर सुनकर जब रणजीत कौर का पति जो फौज से रिटायर होने के बाद गुजरात में काम करता था घर आया तो करंट से मौत की कहानी पर  विश्वास नहीं कर पा रहा था। जैसे जैसे परतें खुलने लगी मौत की गुत्थी खुलती गई, क्योंकि सुनील और रणजीत कौर के बीच की नजदीकियां किसी बड़ी साजिश की तरफ इशारा कर रही थी।

पुलिस इस मामले में नये सिरे से तफतीश शुरू की और जो खुलासा हुआ चौंकाने वाला था। पुलिस के मुताबिक एक मां ने अपने आशिक के साथ मिलकर 17 साल के बेटे रोहित को करंट लगाकर मार डाला। दोनों पुलिस की गिरफ्त में हैं और इन लोगों पर धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।