सौतेली बेटी को भूखा रखने वाली मां को 25 साल की कैद

नई दिल्ली (31 जुलाई): अमेरिका के क्वींस में रहने वाली 35 साल की भारतीय मूल की एक महिला को  25 साल की सजा सुनाई गई। 

- इस महिला को 12 साल की अपनी सौतेली बेटी माया को 2012 से 2014 के बीच फिजिकली और मेंटली टॉर्चर करने का दोषी पाया गया है। 

- दोषी महिला का नाम शीतल रनौट है। वह अपने पति राजेश और सौतेली बेटी के साथ क्वींस में रहती थी।

- करीब तीन हफ्ते की सुनवाई के बाद शीतल को दोषी पाया गया।

- पुलिस अब उसके पति पर भी केस फाइल करने की बात कह रही है।

- जांच में सामने आया कि शीतल माया को अक्सर बाथरूम और बेडरूम में बंद कर देती थी और उसे भूखा रखती थी।