82 साल बाद मां को मिली खोई हुई बेटी, ऐसे हुआ मिलन

न्यूयॉर्क (3 फरवरी): न्यूयॉर्क में 82 साल बाद एक मां- बेटी का मिलन हुआ है। मोरेल नाम की महिला जब एयरपोर्ट पर अपनी मां को देखी तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं था। मोरेल की मां जब 14 साल की थी तो मोरेल का जन्म हुआ था लेकिन तब से वो अपनी मां से दूर थी। पचास सालों तक उन्होने अपनी मां को ढूंढा और आखिरकार ये संयोग आ ही गया गया जब मोरेल को उनकी मां मिल गई।

82 साल की मोरेल जब न्यूयॉर्क का बिंघमटन एयरपोर्ट पर अपनी मां को देखी तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं था। क्योंकि वो पहली बार अपनी मां को अपने सामने देख रही थी। उसकी आंखो को यकीन नहीं हो रहा था कि जिस मां को वो पिछले पचास सालों से ढूंढ रही थी अब वो उसके सामने है। बिछड़े रिश्ते की ये तस्वीर जैसे ही मोरेल के सामने आई उसने बिना देर किए अपनी मां को गले से लगा लिया।

दरअसल 11 फरवरी 1933 को यानि आज से 82 साल पहले लेना पार्रसे जब 14 साल से भी कम उम्र की थी तो उन्होने बेट्टी मोरेल को यूटिका हॉस्पीटल में जन्म दिया। तब मोरेल का नाम उसकी मां ने इवामे रखा था। लेकिन उम्र कम होने का हवाला देकर मोरेल की देखरेख और लालन पालन के लिए एक कपल ने उसे गोद ले लिया। फिर उसका नाम बदलकर बेट्टे मोरेल रखा। लेकिन मोरेल जब 21 साल थी उसे गोद लेनेवाले माता पिता देहांत हो गया। 

उसके बाद से ही मोरेल इस दुनिया में अकेली थी, लेकिन उसे अपने जन्म की पूरी कहानी मालूम थी। लिहाजा उसने जन्म देनेवाली मां का पता लगाने की ठानी और फिर इंटरनेट के जरिए यूटिका अस्पताल की जानकारी पर अपनी और अपनी मां की जानकारी को शेयर किया। 50 सालों तक अपनी मां को ढूंढती रही और आखिरकार 15 जनवरी को वो ऐतिहासिक क्षण आ ही गया जब बिंघमटन एयरपोर्ट पर उसे अपनी मां मिल गई।

कहते हैं, मां के प्यार का कोई विकल्प नहीं हो सकता। आप उम्र के चाहे किसी भी पड़ाव पर पहुंच जाएं, सबसे बेशकीमती धरोहर मां का प्यार और उसकी ममता ही रहती है। 82 साल बाद  मिलन की ये तस्वीरें भी यहीं बयां कर रही हैं।