दुनिया का ये है सबसे महंगा गड्ढा, हर साल निकलते हैं 175 करोड़ रुपए के हीरे

नई दिल्ली (18 अगस्त) :  बरसात में सड़क पर गड्ढे हों तो प्रशासन को हर कोई खरी खोरी सुनाता है। लेकिन क्या कोई गड्ढा बेशकीमती भी हो सकता है। जी हां, ईस्ट साइबेरिया में डायमंड सिटी 'मिर माइन' ऐसी ही खदान है। ये खदान इतनी मूल्यवान होने के साथ खतरनाक भी बहुत है। ये ऐसा बवंडर उठाती है कि इसके ऊपर से गुजरने वाले हेलिकॉप्टर भी इसकी तरफ खिंचे चले आते हैं।  

1722 फिट गहरे और लगभग एक मील के व्यास वाले इस गड्ढे को देखकर लगता है जैसे मिर्नी टाउन पर कोई उल्का पिंड आ गिरा हो। हालांकि खुली खदान में 2004 में ऑपरेशन रोक दिए गए थे। इसके बाद इसमें अंडरग्राउंड टनल लगाए गए जिससे 2014 में 6 मिलियन कैरेट रफ डायमंड मिले। इस खान से हर साल औसतन 2 लाख कैरेट हीरे निकलते हैं। जिनकी कीमत लगभग 2 करोड़ पाउंड (175 करोड़ रुपए) होती है।

इस खदान पर रूसी कंपनी अलरोसा का स्वामित्व है। यह कंपनी पूरे विश्व में कुल उत्पन्न हीरों की चौथाई संख्या उत्पादित करती है। 2010 में एक फर्म ने कहा था कि वह यहां पर एक विशाल गुंबददार शहर का निर्माण करेगी और सोलर एनर्जी के द्वारा करीब 1 लाख लोगों को बिजली उपलब्ध करवाएगी।