मच्छर मारने वाली चलेगी ट्रेन, डेंगू और मलेरिया से करेगी बचाव

नई दिल्ली ( 18 अगस्त ): भारतीय रेलवे और एमसीडी के साझा प्रयास से आज यानी 18 अगस्त से मच्छरों को मारने वाली (मोस्क्विटो टर्मिनेटर) ट्रेन चलाई जा रही है। दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों से गुजरते हुए यह ट्रेन रेलवे लाइन के आसपास के हिस्सों में मच्छर रोधी दवाओं का छिड़काव करेगी। 

9 सितंबर तक चलने वाले इस अभियान में लगभग 400 किलो मच्छररोधी दवाओं का छिड़काव किया जाएगा। डेंगू-मलेरिया के मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही निगमों की ओर से मच्छरों को पनपने से रोकने की कोशिशें तेज हो गई हैं। इस क्रम में 18 अगस्त से रेलवे के सहयोग से टर्मिनेटर ट्रेन चलाई जाएगी। इस ट्रेन में बड़े उपकरण लगे होंगे, जिनसे रेलवे लाइन के आसपास दवाइयों का छिड़काव किया जाएगा।

इस ट्रेन के माध्यम से दिल्ली के रेल पटरियो के आस पास जमा पानी और नालो में दवा का छिड़काव किया जाएगा। जिससे मच्छरों की ब्रीडिंग रोका जा सके। ट्रेन आने वाले महीनों में सप्ताह में दो दिन चलेगी जिसमें हर ट्रिप में करीब 100 किलोमीटर पटरियों पर छिड़काव करेगी।