WATCH : ऐसे बढ़ने वाली हैं आसाराम और नारायण साईं की मुश्किलें

भूपेंद्र सिंह, अहमदाबाद  (30 मार्च): जोधपुर जेल में बंद आसाराम और उसके बेटे नारायण साईं की मुश्किलें और बढ़ने वाली है। गवाहों के कातिल कार्तिक ने अपने कबूलनामे में कहा है कि उसने ही 2014 में यौन शोषण के आरोपी आसाराम के खिलाफ 3 मुख्य गवाहों में से एक अमृत प्रजापति को रास्ते से हटाने के लिए गोलियां चलाई, क्योंकि गवाह आसाराम को ब्लैकमेल कर रहा था।

पुलिस के मुताबिक कार्तिक ने यह तो कबूल कर लिया कि अमृत प्रजापति की हत्या उसने ही की है, लेकिन प्रजापति के अलावा कई और गवाह थे जो इस खूंखार की गोली के शिकार हुए। पुलिस के सामने उन हत्याओं की गुत्थी सुलझाने की चुनौती अभी बाकी है। हालांकि, पुलिस ये कह रही है बाकी गवाहों के कत्ल में भी कार्तिक शामिल था।

देखिए न्यूज़24 की रिपोर्ट...

[embed][/embed]