बोले जैन मुनि तरुण सागर- 'पाकिस्तान में जितने आतंकी नहीं, उससे ज्यादा हमारे देश में गद्दार हैं'

नई दिल्ली (30 जून): सच कथन कहने की वजह से कड़वे प्रवचन के लिए नशहूर जैन मुनि तरुण सागर ने कहा है कि पाकिस्तान में जितने आतंकवादी नहीं है, उससे ज्यादा हमारे देश में गद्दार हैं। जैन मुनि ने सीकर जिले के पिपराली के वैदिक आश्रम में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए यह बयान दिया।

उन्‍होंने कहा कि देश में रहता हो, देश का खाता हो और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाता हो वो गद्दार नहीं तो और क्या है। आतंकवादी शेर की तरह सामने से वार नहीं करता है, वह तो भेड़िये की तरह पीछे से हमला करता है।

जैन मुनि ने देश में व्याप्त विसंगतियों पर चोट करते हुए कहा, 'लोग कहते हैं भारत गरीब देश है, जबकि भारत गरीब नहीं है। मेरा मानना है कि देश में गरीबी नहीं गैर बराबरी है।'

उन्होंने अपने कड़वे प्रवचनों के सवाल पर कहा, 'कड़वाहट उनके प्रवचनों में नहीं, हमारे समाज और लोगों के आपसी संबंधों में घुल गई है। इसलिए उनके प्रवचन कड़वे लगते हैं।'