लड़कियों को लेकर आया हैरान करने वाला ये सच!

नई दिल्ली(28 जुलाई): देश में उच्च शिक्षा में लड़कियों की हिस्सेदारी जरुर बढ़ी है, लेकिन इनका असर भारत में कर्मचारियों की संख्या पर नहीं पड़ा है। युवा लड़कियों की या तो जल्द शादी हो जाती है या तो वे नौकरी की तलाश कर रही हैं। ये बात 'इंडिया स्पेंड एनालिसिस' में कही गई है।

साल 2007 से 2014 के बीच उच्च शिक्षा में लड़कियों की 39 फीसद के मुकाबले 46 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। लेकिन कर्मचारियों की संख्या में लड़कियों की भागीदारी  2014 में जो 27 फीसद रही,  जोकि  साल 1999 में 34 फीसद थी। 

कम से कम 12 मिलियन लड़कियां अंडर ग्रेजुयेट कोर्स में दाखिला लेती हैं, लेकिन इनमें कुछ हीं प्रोफेशनल कोर्स जारी रख पाती हैं। साल 2013 में 6 लाख लड़कियों ने डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लिया था, लेकिन उनमें से 40 फीसद ने ही पीएचडी कोर्स में अप्लाई किया।