मून एक्सप्रेस: पहली बार चंद्रमा पर जाएगी एक प्राइवेट कंपनी, बसाएगी 'कॉलोनी'

नई दिल्ली (8 अगस्त): चंद्रमा पर जाने के लिए पहली बार एक प्राइवेट मिशन शुरू हो रहा है। इस मिशन से अंतरिक्ष पर कॉलोनी बनाने की शुरुआत होने जा रही है।

ब्रिटिश अखबार 'द इंडिपेंडेंट' की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी सरकार ने फ्लोरिडा की एक प्राइवेट कम्पनी को पृथ्वी की कक्षा से बाहर चंद्रमा तक स्पेसक्राफ्ट को भेजने की मंजूरी दे दी है। 

इस मिशन के पीछे 'मून एक्सप्रेस' कम्पनी को उम्मीद है कि वह वाशिंग मशीन के साइज़ के एक रोवर को चंद्रमा पर भेज सकती है। जो इसकी सतह पर कूद सकेगा। फायरिंग इंजन्स पहियों पर घूमने की बजाय इसके चारों ओर कूद सकेंगे।

- मून एक्सप्रेस के सीईओ बॉब रिचर्ड्स ने कहा- "रेंगना क्यों अगर आप उड़ सकते हैं।" 

- मून एक्सप्रेस अपने शिप को अगले साल भेज सकता है। जो न्यूजीलैंड से उड़ान भरेगा। 

- इसे जिस रॉकेट के जरिए भेजा जाएगा उसका अभी तक परीक्षण नहीं किया गया है।  - रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी को तकनीकी तौर पर फ्लाइंग के लिए लाइसेंस अभी नहीं मिला है। लेकिन सरकार की तरफ से ये प्रमाण मिल गया है कि यह कोई नुकसान नहीं करेगी।