केरल नहीं कल यहां से भारत में दस्तक देगा मानसून

नई दिल्ली (28 मई): अमूमन भारत में 29-30 मई को केरल के रास्ते भारत में मानसून दस्तक देता है। इस भारत में मानसून बंगाल की खाड़ी के रास्ते मानसून भारत में दस्तक देने को तैयार है। बंगाल की खाड़ी में एक गहरे दबाव का क्षेत्र बन चुका है और यह तेजी से और ज्यादा ताकतवर होता जा रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक यह गहरा दबाव अगले 12 से 24 घंटे में एक चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जाएगा। अनुमान है कि चक्रवाती तूफान बांग्लादेश में चटगांव के पास तट को पार करेगा। चटगांव पार करते ही इस तूफान की ताकत कम हो जाएगी और यह एक गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो जाएगा।


माना जा रहा है कि इस वेदर सिस्टम की वजह से मानसून केरल से पहले पूर्वोत्तर भारत में दस्तक दे देगा। इन स्थितियों में पूर्वोत्तर भारत में मानसून 29 या 30 तारीख तक दस्तक दे सकता है, जबकि केरल में मानसून इसके बाद पहुंचेगा। बंगाल की खाड़ी में बने वेदर सिस्टम की वजह से मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। इस चेतावनी के मुताबिक 30 मई को दक्षिण असम, मेघालय, त्रिपुरा और मिजोरम में कई जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश और नागालैंड में कुछ जगहों पर भारी बारिश का अंदेशा है।