न्यूज 24 money मंथन में बोले अमिताभ कांत- देश को आगे ले जाने के लिए कष्ट सहना पड़ेगा

नई दिल्ली(14 दिसंबर): न्यूज 24 कॉन्क्लेव ' मनी मंथन' में शिरकत करते हुए नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा कि देश को आगे ले जाने के लिए कष्ट सहना पड़ेगा। बैंकों के बाहर लग रही लंबी-लंबी कतारों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि अगर देश को चीन के बराबर आना है तो लोगों को थोड़ा कष्ट तो झेलना पड़ेगा। कांत ने कहा कि देश के 40 साल के अच्छे भविष्य के लिए क्या 40 दिन भी कष्ट नहीं झेल सकते। हालांकि उन्होंने लोगों को हो रही दिक्कतों के लिए क्षमा भी मांगा।

अमिताभ कांत ने और क्या कहा...

- लोगों को जो दिक्कत हो रही है मैं उसके लिए क्षमा मांगता हूं:अमिताभ कांत

- काला धन भी सिस्टम में आ रहा है, दूसरी चीज सरकार इससे टैक्स और पैनेल्टी लेगी जिससे सरकार के पास पैसा आएगा:अमिताभ कांत

- बैंकों के पास पैसा आने से ब्याद दर कम होगा, जिससे देश तेजी से आगे बढ़ेगी:अमिताभ कांत

- चीन के बराबर अपने आप को लाने के लिए हमें थोड़ा कष्‍ट झेलना होगा:अमिताभ कांत

- देश में 1 फीसदी टैक्स देता है लेकिन 99 फीसदी टैक्स नहीं देता:अमिताभ कांत

- जब देश में लोग मोबाइल यूज कर सकते हैं तो डिजिट पेमेंट भी यूज करेंगे:अमिताभ कांत

- कंप्यूटर, एटीएम और मोबाइल आया तो लोगों ने आलोचना की, ऐसा ही डिजिटल पैमेंट को लेकर हो रहा है:अमिताभ कांत

- देश को 10 फीसदी की ग्रोथ करना है तो उसके लिए देश की जनता को त्याग करना पड़ेगा:अमिताभ कांत

- सरकार का लक्ष्य है कि डिजिटल पैमेंट कैश से सस्ता बने:अमिताभ कांत

- 99 प्रतिशत लोगों के पास आधार कॉर्ड है, जो डिजिटल पेमेंट को आसान बनाएगा:अमिताभ कांत

 

- जिनको डिजिटल पैमेंट नहीं आती है, उनको सीखाया जाएगा:अमिताभ कांत

 

- जिनके पास मोबाइल नहीं है, उन गांवों में Pos मशीनें भेजी जाएंगी:अमिताभ कांत

- देश में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए एक झटका जरूरी था:अमिताभ कांत