मोहन भागवत ने कहा, किसी को दूसरे की देशभक्ति नापने का अधिकार नहीं

नई दिल्ली ( 12 फरवरी ): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने शनिवार को कहा कि किसी को भी दूसरे व्यक्ति की देशभक्ति नापने का अधिकार नहीं है। मध्य प्रदेश के आठ दिवसीय प्रवास पर आए भागवत ने यहां भारत भवन में पत्रकार विजय मनोहर तिवारी की पुस्तक 'भारत की खोज में मेरे पांच साल' का विमोचन करते हुए यह बात कही।

मोहन भागवत ने कहा कि किसी को भी दूसरे की देशभक्ति को नापने का अधिकार नहीं है, मुझे भी नहीं है, जो अपने को इस देश का कर्ता-धर्ता माने उसे भी यह अधिकार नहीं है। कोई भी किसी की कितनी देशभक्ति है, उसे नाप नहीं सकता।

भागवत के मध्य प्रदेश प्रवास का शनिवार को पांचवां दिन है।