'हम BJP की अगुवाई वाली सरकार के दूत नहीं हैं'

नई दिल्ली (21 अगस्त): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने आगरा में एक कार्यक्रम में कहा कि वह बीजेपी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार के दूत नहीं हैं। इस कार्यक्रम में वह शिक्षकों की ढेरों शिकायतों व मांगों से दो-चार हुए। जिसके बाद उन्होंने यह बात कही।

- रिपोर्ट के मुताबिक, भागवत ने कहा कि उन्हें (शिक्षकों) केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर से संपर्क करना चाहिए।  - एक दूसरे कार्यक्रम में करीब 2000 युवा दंपतियों को संबोधित किया। - कार्यक्रम में संघ प्रमुख ने उनसे पारिवारिक मूल्यों के लिए काम करने और बच्चों में राष्ट्रभक्ति की भावना पैदा करने की अपील की। - अपनी यात्रा के पहले दिन शनिवार को मोहन भागवत ने विश्वविद्यालयी व महाविद्यालयी शिक्षक सम्मेलन में हिस्सा लिया। - जहां उत्तर प्रदेश के 11 जिलों के शिक्षकों ने पहुंचे थे। भावगत से शिक्षकों से बदलाव का वाहक बनने और स्टू़डेंट्स में राष्ट्रीय भावनाएं मजबूत करने की अपील की।  - उन्होंने कहा कि वह शिक्षा के क्षेत्र की समस्याओं से अवगत हैं लेकिन एनडीए सरकार के प्रतिनिधि नहीं हैं।