इस वजह से शमी को कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से किया गया बाहर

नई दिल्ली(8 मार्च): बीसीसीआई ने  टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट रोक दिया क्योंकि उनकी पत्नी ने उन पर घरेलू हिंसा और व्यभिचार के आरोप लगाए हैं जिनका इस क्रिकेटर ने खंडन किया है।

- बीसीसीआई ने जिन 26 अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची जारी की है उनमें शमी का नाम शामिल नहीं है जबकि उन्होंने हाल में दक्षिण अफ्रीका के दौरे में भारत की एकमात्र टेस्ट जीत में अहम भूमिका निभाई थी। 

- इससे शमी को कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से बाहर करने को लेकर कयास लगाए जाने लगे और बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि बोर्ड ने उनकी पत्नी हसीन जहां द्वारा लगाए गए आरोपों को ध्यान में रखकर उनका नाम रोक दिया।

- अधिकारी ने कहा, 'बीसीसीआई ने मोहम्मद शमी की निजी जिंदगी से जुड़ी तमाम रिपोर्टों पर संज्ञान लिया है। यह पूरी तरह से निजी मामला और बीसीसीआई का इससे कोई लेना देना नहीं है। लेकिन इस मामले से जुड़ी महिला कोलकाता में पुलिस आयुक्त से मिली है तो बीसीसीआई की तरफ से यह विवेकपूर्ण होगा कि वह किसी तरह की आधिकारिक जांच का इंतजार करे।'

-उन्होंने कहा, 'इसलिए फिलहाल मोहम्मद शमी का नाम आज जारी सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट से हटा दिया गया. हम फिर से दोहराना चाहेंगे कि इस फैसले का शमी की एक खिलाड़ी के रूप में योग्यता से कोई लेना देना नहीं है बल्कि यह वर्तमान परिस्थितियों में बचाव के लिए लिया गया है।'