Blog single photo

मोहम्मद कैफ ने दिखाया इमरान खान को आईना, कहा लेक्चर न दें!

पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान पर किया गया एक ट्वीट चर्चा का विषय बना हुआ है। एक्टर नसीरुद्दीन शाह और असदुद्दीन ओवैसी के बाद कैफ ने इमरान खान पर निशाना साधा है। एक्टर नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) ने देश के हालात पर चिंता जताई थी और कहा था कि वो बच्चों को लेकर देश में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 दिसंबर): पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान पर किया गया एक ट्वीट चर्चा का विषय बना हुआ है। एक्टर नसीरुद्दीन शाह और असदुद्दीन ओवैसी के बाद कैफ ने इमरान खान पर निशाना साधा है। एक्टर नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) ने देश के हालात पर चिंता जताई थी और कहा था कि वो बच्चों को लेकर देश में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

उन्होंने बुलंदशहर का भी जिक्र करते हुए कहा था कि इंसान के हत्यारे की जगह गाय के हत्यारों को पकड़ने को तरजीह दी जा रही है। जिसके बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा था कि वो हिंदुस्तान को दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों से कैसे बर्ताव करते हैं। जिसके बाद कई लोगों ने पाक पीएम इमरान को आड़े हाथों लिया और पाकिस्तान में हिंदुओं की सच्चाई दिखाई। इमरान खान के बयान के बाद नसीर ने पलटवार किया।  जिसके बाद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और अब क्रिकेटर मोहम्मद कैफ (Mohammad Kaif) ने इमरान खान को आईना दिखाया है।

इमरान खान ने ट्वीट किया, ''जिन्ना ने एक लोकतांत्रिक मुल्क बनाया था,नया पाकिस्तान जिन्हा का पाकिस्तान है और हम ये सुनिश्चित करेंगे कि अल्पसंख्यकों को बराबर का नागरिक समझा जाए जैसा भारत में नहीं हो रहा, जिन्ना ने मुस्लिमों के लिए अलग देश के लिए संघर्ष तब शुरू किया जब उन्हें ये समझ में आ गया था कि हिंदू बहुसंख्यकों द्वारा मुस्लिमों को बराबर का नागरिक नहीं समझा जाएगा।''

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने पाक पीएम इमरान के ट्वीट को कोट करते हुए लिखा, ''बटवांरे के वक्त पाकिस्तान में 20 प्रतिशत अल्पसंख्यक थे जो कि घटकर अब सिर्फ 2 प्रतिशत रह गए हैं. जबकि इसके दूसरी तरफ आज़ादी के बाद से भारत में लगातार अल्पसंख्यकों की आबादी बढ़ी है. पाकिस्तान अल्पसंख्यकों के साथ बर्ताव पर लेक्चर देने वाला सबसे आखिरी देश होना चाहिए।''

इससे पहले इमरान के बयान पर AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने टिप्पणी करते हुए ट्विटर पर लिखा था- 'पाकिस्तानी संविधान के अनुसार, केवल एक मुस्लिम राष्ट्रपति बनने के लिए योग्य है।  भारत में वंचित समुदायों के कई राष्ट्रपति रहे हैं। खान साहब को हमसे समावेशी राजनीति और अल्पसंख्यक अधिकारों के बारे में सीखना चाहिए। '

Tags :

NEXT STORY
Top