मोदी US दौरा: टॉप CEOs से मिलें PM, भारत में 3 लाख करोड़ इन्वेस्टमेंट का वादा

नई दिल्ली( जून): पीएम मोदी तीन दिवसीय यूएस दौरे पर हैं। इस दौरान पीएम मंगलवार को व्हाइट हाउस में बराक ओबामा से सांतवीं बार मुलाकात की। ओबामा से मुलाकात के बाद नरेंद्र मोदी मंगलवार रात यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल में पहुंचे। यहां पेप्सिको की इंदिरा नूई से लेकर अमेजन के जेफ बेजोस तक अमेरिका के टॉप-25 CEOs मौजूद थे। 15 सांसद भी पहुंचे।

मोदी ने उन्हें भारत में इन्वेस्टमेंट और बिजनेस के लिए बने अच्छे माहौल के बारे में बताया। इस मीटिंग के बाद बिजनेस काउंसिल ने कहा कि अमेरिकी कंपनियां अगले तीन साल में भारत में 45 अरब डॉलर यानी करीब 3 लाख करोड़ रुपए का इन्वेस्टमेंट करेंगी। मोदी ने कहा कि भारत सिर्फ बाजार नहीं है। 

मोदी ने वॉशिंगटन में अमेरिकी CEOs से बिजनेस राउंड टेबल मीटिंग की। इसमें इंडिया-यूएस बिजनेस रिलेशन्स पर बात हुई।

पीएम मोदी ने और क्या कहा..

- मोदी ने कहा, ''भारत की इकोनॉमी मजबूत है और दुनिया की जरूरतों को पूरा करती टैलेंटेड वर्क फोर्स हमारे पास मौजूद है। CEOs के लिए सोलर एनर्जी और डिजिटल इंडिया जैसे सेक्टर्स में मौके हैं।''

- ''हमारी सरकार CEOs के सुझावों पर गौर करेगी और अच्छा बिजनेस एन्वायरनमेंट बनाएगी।''

- ''प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत 20 करोड़ खाते खोले गए हैं। यह आंकड़ा इतना है, जितनी दुनिया के कई देशों की आबादी नहीं है।''

- ''भारत सिर्फ बाजार नहीं है। यह उससे कहीं बढ़कर है। यहां अापको हाई क्वालिटी साइंटिफिक, इंजीनियरिंग और मैनेजरियल टैलेंट मिलेगा।''

- मोदी ने कहा, ''हमने ट्रांसफॉर्म इंडिया की तरफ अपने सफर की शुरुआत की है। दुनिया की 1/6th आबादी के साथ अगर भारत ट्रांसफॉर्म करता है तो दुनिया भी बदल जाएगी। यह सफर लंबा है। लेकिन अब तक की तरक्की बताती है कि हम अपनी मंजिल तक पहुंच जाएंगे।''

- ''मैं आप लोगों से गुजारिश करता हूं कि इस सफर में हमारे साथ जुड़ें। इस सफर में अाप न सिर्फ अपनी कंपनी की बैलेंस शीट को बेहतर कर पाएंगे, बल्कि बेहतर भारत, बेहतर अमेरिका और बेहतर दुनिया बनाने में भी अपना योगदान दे पाएंगे।''

- मोदी ने बताया कि ट्रांसफॉर्म इंडिया गरीबी दूर करने और करप्शन मिटाने का मिशन है।