''दलितों को लेकर मोदी सरकार को किया गया बदनाम''

नई दिल्ली (11 अगस्त): दलितों पर अत्याचार के मुद्दे पर लोकसभा में बोलते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यह एक गंभीर मुद्दा है और इसपर राजनीति नहीं होनी चाहिए। इसी के साथ उन्होंने आरोप भरे लहजे में कहा कि यह भ्रम फैलाने की कोशिश की गई कि मोदी सरकार के आने के बाद दलितों पर अत्याचार तेजी से बढ़े हैं।

इसी के साथ राजनाथ सिंह ने कहा कि दलितों को लेकर कोई राजनीति नहीं होनी च‍ाहिए। यह हमारे लिए एक चैलेंज है और इसे खत्म करने की कोशिश करेंगे।

लोकसभा में गृहमंत्री ने अपने भाषण में कहा...

- दलितों पर हो रहे अत्याचार को लेकर राजनीति ना करें। - यह हमारे लिए गंभीर मुद्दा है और इसे खत्म करना है। - भारत को दुनिया का सरताज बनाने का सपना तभी पूरा होगा,  जब हम मानवता को मानें। - भ्रम फैलाने की कोशिश की गई कि मोदी सरकार के आने के बाद दलितों पर अत्याचार तेजी से बढ़े हैं। - हम जब तक विकास नहीं कर सकते जब तक लोग गरीब और बेरोजगार हैं। - 55 सालों में जो आप नहीं कर पाए वो हमारी सरकार ने 2 सालों में कर दिया। - ऊना में जो हुआ वह दुखद है और राज्य सरकार वहां पर हर संभव काम कर रही है। - क्या प्रधनमंत्री ने हर विषय पर अपना मुहं खोला है? - हम दलितों के उत्थान के लिए बहुत से कार्यक्रम चला रहे हैं। - गृहमंत्री के बयान के दौरान कांग्रेस ने सदन से वाकआउट किया।