मनमोहन पर मोदी का पहला तीखा हमला

नई दिल्ली (29 दिसंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी को अर्थव्यस्था की बेहतरी के लिए उठाया गया सख्त मगर जरूरी फैसला बताया है। एक पत्रिका को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने नोटबंदी को कालेधन, भ्रष्टाचार और नकली नोटों के खिलाफ सीधा हमला करार दिया। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर भी तीखा हमला बोला। नोटबंदी की 'यादगार कुप्रबंधन' कहकर आलोचना करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर भी प्रधानमंत्री ने पलटवार किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह दिलचस्प है कि यह शब्द (यादगार कुप्रबंधन) उस नेता की तरफ से आया जो पिछले 45 सालों तक भारत की अर्थव्यवस्था से सीधे तौर पर जुड़े रहे। मोदी ने कहा कि वह नेता (मनमोहन सिंह) चीफ इकनॉमिक अडवाइजर, डीईए सेक्रटरी, आरबीआई गवर्नर, योजना आयोग के उपाध्यक्ष, वित्त मंत्री और प्रधानमंत्री रह चुके हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि इसी दौरान हमारे समाज का एक बड़ा तबका गरीबी में जीता रहा और जरूरी सुविधाओं से वंचित रहा।