मोदी सरकार ने फौजियों को दिया दिवाली गिफ्ट

नई दिल्ली(13 अक्टूबर): सरकार ने फौजियों को शानदार दिवाली उपहार दिया है। डिफेंस चीफ और सरकार आर्म्ड फोर्सेज के लिए नए पे ग्रेड पर चल रहा विवाद निपटाने में लगे हुए हैं। 

- एक वेबसाइट पर छपी खबर के मुताबिक रक्षा मंत्रालय मनोहर पर्रिकर के ऑर्डर में कहा गया है कि पे कमीशन का नोटिफिकेशन पेंडिंग होने के चलते प्रेजिडेंट ने उनके लिए अस्थायी तौर पर बकाया भुगतान को मंजूरी दी है।

-सभी जवानों को मिलने वाला बकाया उनकी मौजूदा सैलरी का 10 पर्सेंट होगा, जिसकी गणना जनवरी 2016 के बाद से होगी। सभी रैंक के जवानों को बोनस के तौर पर एक महीने की पूरी सैलरी मिलेगी। 

- जवानों को यह रकम दिवाली से पहले मिल जाएगी। सिविल सर्विसेज के उलट आर्म्ड फोर्सेज को पे कमीशन की वजह से बकाया अभी तक नहीं मिला है। उनके लिए नया सैलरी स्केल भी अभी तक लागू नहीं हुआ है।

- बकाया भुगतान में देरी फोर्सेज के लिए कमीशन के कंपनसेशन स्ट्रक्चर की विसंगतियां दूर करने के मामले में तीनों सेनाओं के प्रमुखों के दखल की वजह से हुई है। 

- सेना प्रमुखों ने कहा है कि जब तक डिसेबिलिटी पे और पेंशन के मामले में विसंगतियों को ठीक नहीं किया जाता, तब तक पे कमीशन की सिफारिशें उन्हें मंजूर नहीं हैं। 

- खबर के अनुसार, सरकार बकाया भुगतान करने का ऑप्शन तलाश रही है। तीनों आर्म्ड फोर्सेज के प्रमुखों को भेजे गए ऑर्डर के अनुसार, बकाये की गणना के लिए जनवरी 2016 की सैलरी को आधार बनाया जाएगा। अभी दी जा रही रकम रिवाइज्ड पे स्केल पर एरियर के फाइनल कैलकुलेशन से एडजेस्ट की जाएगी।