'मोदी के रहते पाकिस्तान को भारत से क्रिकेट खेलने का मौका नहीं'

नई दिल्ली (31 मार्च): पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन शहरयार खान ने कहा है कि जब तक मोदी सरकार है तब तक पाकिस्तान को भारत के साथ क्रिकेट नहीं खेलने का मौका नहीं  सकता। इसलिए पाकिस्तान आईसीसी विवाद निवारण समिति के सामने बीसीसीआई के खिलाफ मुआवजा मामला दर्ज करेगा। पीसीबी चेयरमैन शहरयार खान ने बोर्ड आफ गवर्नर्स की बैठक के बाद कहा कि उन्हें भारत के खिलाफ मुआवजा मामला आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई को जल्द ही कानूनी नोटिस भेजा जाएगा और इसके बाद पीसीबी आईसीसी विवाद निवारण समिति के सामने मामला दर्ज करेगा। 


उन्होंने लाहौर में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमने अब कानूनी कार्रवाई करने का फैसला किया है और हम बीसीसीआई के लिये नोटिस भेजेंगे जिसके बाद हम अपने घाटे की भरपायी के लिये आगे कदम बढ़ाएंगे क्योंकि हम क्रिकेट खेलना चाहते हैं और हम इस पर विश्वास नहीं करते कि सरकार और राजनीति के कारण भारत को हमारे खिलाफ खेलने की अनुमति नहीं मिलती।’’शहरयार ने कहा, “हमें पाकिस्तान और भारत के बीच द्विपक्षीय श्रृंखला की कोई संभावना नजर नहीं आती है। पूर्व में भी राजनीतिक तनाव रहा है लेकिन क्रिकेट श्रृंखला होती रही। लेकिन मोदी सरकार  के रहते हुए हमें नहीं लगता कि वह (भारत) हमसे मौजूदा परिस्थितियों में खेलेगा।” वहीं दूसरी तरफ, पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान मिसबाह उल हक और सीनियर खिलाड़ी शाहिद अफरीदी ने आज सीमित ओवरों के कप्तान सरफराज अहमद के इस दावे को खारिज कर दिया कि भारतीय टीम पाकिस्तान से खेलने से डरती है और इसलिए भारत-पाक द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं हो रही है।