BREAKING: घर बैठे मोदी सरकार देगी 1 लाख, सिर्फ करना होगा ये काम

नई दिल्ली (6 जनवरी): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनावों से पहले हर किसी के खाते में 15-15 लाख रुपये आने की बात कही थी, लेकिन बाद में इसे चुनावी जुमला कहकर नकार दिया गया। लेकिन मोदी सरकार अब लोगों बड़ा तोहफा देने जा रही है। मोदी सरकार गणतंत्र दिवस पर एक खास तरह की प्रतियोगिता का आयोजन करने जा रही है, जिसके विजेता को एक लाख रुपए का नकद पुरस्‍कार दिया जाएगा।

प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि आप घर बैठे ही इसमें भाग ले सकते हैं। प्रतियोगिता के दूसरे विजेता को सरकार 75 हजार और तीसरे विजेता को 50 हजार रुपए का पुरस्‍कार देगी। इस प्रतियोगिता में आजादी के बाद से अबतक जितने भी वीरता पुरस्‍कार दिए गए हैं, उनके बारे में सवाल पूछे जाएंगे। सवालों का जवाब देने के लिए केवल 5 मिनट का समय ही दिया जाएगा।

यह प्रतियोगिता mygov.in के मोबाइल एप और पोर्टल पर आयोजित की जाएगी। mygov.in  एप या पोर्टल पर राष्‍ट्र की सेवा और सुरक्षा के लिए वीरता पुरस्‍कार जैसे परमवीर चक्र, महावीर चक्र, वीर चक्र, अशोक चक्र, कीर्ति चक्र और शौर्य चक्र वाले सैनिकों के बारे में सवाल पूछे जाएंगे। इन सवालों का जवाब आपको 5 मिनट के अंदर देना होगा।

इसके अलावा दो सांत्‍वना पुरस्‍कार भी दिए जाएंगे। इसमें प्रत्‍येक विजेता को 15-15 रुपए प्राप्‍त होंगे। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए उम्र की कोई सीमा नहीं रखी गई है। यह प्रतियोगिता दो श्रेणियों में आयोजित होगी, पहली 18 साल से कम के लोगों के लिए और दूसरी 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए। दोनों की श्रेणियों के विजेताओं को अलग-अलग पुरस्‍कार दिया जाएगा।

इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए quiz.mygov.in पर लॉगिन करना होगा, जिसके बाद आपके सामने क्विज से जुड़े सवाल आ जाएंगे। इसमें आपको कुल 15 सवालों के जवाब देने होंगे, हर सवाल का जवाब देने के लिए आपको केवल 5 मिनट का समय मिलेगा। वैसे तो यह प्रतियोगिता 1 जनवरी को शाम 4 बजे से शुरू हो चुकी है लेकिन आप इसमें 10 जनवरी रात 11.59 बजे तक इसमें भाग ले सकते हैं। 10 जनवरी के बाद इसमें भाग नहीं लिया जा सकेगा।

इस प्रतियोगिता के विजेताओं को नकद पुरस्‍कार के अलावा 26 जनवरी के गणतंत्र दिवस समारोह और 28 जनवरी को बीटिंग रिट्रीट में शामिल होने के लिए आमं‍त्रित भी किया जाएगा। यदि आप दिल्‍ली के अलावा कहीं ओर रहते हैं तो रक्षा मंत्रालय द्वारा आपके आने-जाने और पांच दिन तक ठहरने का इंतजाम किया जाएगा।