Blog single photo

'जय जवान, जय किसान' के नारे का गलत इस्‍तेमाल कर रही है मोदी सरकार: कांग्रेस

भारतीय सेना की तरफ से 21 महीने पहले पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर में घुसकर आतंकी शिविरों पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का एक वीडियो बुधवार को सामने आया, इसके बाद एक बार फिर देश की राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सेना के बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश सरकार न करे। वहीं भाजपा ने कहा है कि इस वीडियो पर देश के हर नागरिक को गर्व करना चाहिए।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 जून): भारतीय सेना की तरफ से 21 महीने पहले पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर में घुसकर आतंकी शिविरों पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का एक वीडियो बुधवार को सामने आया, इसके बाद एक बार फिर देश की राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि सेना के बलिदान को वोट में बदलने की कोशिश सरकार न करे। वहीं भाजपा ने कहा है कि इस वीडियो पर देश के हर नागरिक को गर्व करना चाहिए।

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भाजपा पर सेना के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। इसके अलावा पूछा है कि इस वीडियो को जारी करने की जरुरत क्यों पड़ी।

उन्‍होंने कहा कि एक तरफ मोदी सरकार ‘जय जवान, जय किसान’ के नारे का गलत राजनीतिक इस्‍तेमाल कर रही है तो दूसरी तरफ ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ को वोट हथियाने के लिए इस्तेमाल करने का शर्मनाक प्रयास कर रही है। उन्‍होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह के कार्यकाल में भी सेना ने कई ऑपरेशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया लेकिन उन्‍होंने कभी इसका फायदा नहीं लिया।

सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस की तत्‍कालीन अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी सेना के कदम और सरकार का पूर्ण समर्थन किया था लेकिन मोदी सरकार और बीजेपी ने इसे वोट पाने का साधन नहीं बना सकती।

उन्‍होंने कहा कि सर्जिकल स्‍ट्राइक को लेकर बीजेपी ने लखनऊ और आगरा में तत्‍कालीन रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर के लिए सम्‍मान समारोह भी आयोजित कर डाला। इतना ही नहीं जान की बाजी देश के सौनिकों ने लगाई और बीजेपी ने मोदी जी का महिमामंडन किया।

NEXT STORY
Top