गुलाम नबी आजाद बोले- कश्मीर मे 4 आतंकियों के चलते मारे जाते हैं 20 नागरिक

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 20 जून ): जम्मू कश्मीर में पीडीपी का साथ छोड़ने के बाद भाजपा हिंदुत्व के मुद्दे पर तल्ख है तो वहीं कांग्रेस भी अपने सामान्य ज्ञान से इस मौके को भुनाने की कोशिश कर रही है। भाजपा राज्य में आतंक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के केंद्र सरकार के वादे के एक दिन बाद ही वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि केंद्र सरकार की दमनकारी नीति का सबसे अधिक नुकसान आम जनता को भुगतना पड़ता है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में चार आतंकियों को मारने के लिए 20 आम नागरिकों को मार दिया जाता है।

गुलाम नबी आजाद ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि सेना की कार्रवाई नागरिकों के खिलाफ ज्यादा और आतंकियों के खिलाफ कम है। उन्होंने सीधे पीएम मोदी को घेरते हुए कहा कि वो बातचीत की बजाए कार्रवाई पर यकीन करते हैं। इसी के चलते घाटी में माहौल सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। वो यहां तक बोलने से नहीं चूके कि पीएम मोदी गोली की भाषा ही जानते हैं। 

बता दें कि पीडीपी से भाजपा द्वारा समर्थन वापस लेने के बाद सूबे में सरकार गिर गई है। जिसके बाद महबूबा मुफ्ती ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद राज्य में राज्यपाल शासन लागू हो चुका है।