सरकार का घर खरीदने वालों को तोहफा, देना होगा सिर्फ 3 फीसदी ब्याज

नई दिल्ली (24 जनवरी): मोदी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में सस्ता होम लोन लेने वाले लोगों के लिए एक बड़ा तोहफा दिया है। लोगों की मासिक किस्त (ईएमआई) के बोझ को कम करने के लिए केंद्र ने बड़ा कदम उठाया है।

सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत नहीं आने वाले परिवारों के लिए दो लाख रुपए तक के होम लोन पर तीन प्रतिशत ब्याज सब्सिडी को मंजूरी दी है।

44 लाख मकान बनाने का लक्ष्य...

- इससे ग्रामीण आवास क्षेत्र में रोजगार के अवसर पैदा हौंगे।

- केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आज इस योजना को मंजूरी दी।

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नव वर्ष की पूर्व संध्या पर राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में इसकी घोषणा की थी।

- यह ब्याज सहायता उन सभी गरीब परिवारों को मिलेगी जो प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत नहीं आते हैं।

- ग्रामीण विकास मंत्रालय ने एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी।

- इस योजना के तहत सरकार का 44 लाख मकान बनाने का लक्ष्य है।

योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के लोगों को नया मकान बनाने या मौजूदा पक्के घर का विस्तार करने की सुविधा भी मिलेगी। राष्ट्रीय आवास बैंक (एनएचबी) इस योजना का क्रियान्वयन करेगा और सरकार इसमें शुद्ध मौजूदा मूल्य पर तीन प्रतिशत की ब्याज सहायता प्रदान करेगी।