अमेरिका में प्रवासियों से बोले मोदी- जो सपने आपने देखे वो पूरे होंगे


नई दिल्ली (26 जून): अमेरिका में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश को विकास के पथ पर ले जाने के लिए तैयार है। देश तेज गति से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि एक आह्वान से लाखों लोगों ने कुकिंग गैस की सब्सिडी त्याग दी। इस सब्सिडी को सरकारने अपने कोष में नहीं रखा। उससे गरीबों को कुकिंग गैस मुहैया करवायी गयी। जब में स्वस्थ भारत की कल्पना करता हूं तो सबसे पहले स्वस्थ मां और स्वस्थ बालक मेरे दिमाग में आता है। पिछले 11 महीनों में एक करोड़ घरों में गैस कनैक्शन दिये गये हैं। आगे हमारा लक्ष्य 5 करोड़ घरों में गैस कनैक्शन पहुंचाना है। 


मोदी ने कहा कि जनता भ्रष्टाचार से दुखी है वो भ्रष्टाचार से मुक्ति चाहती थी। टेक्नोलॉजी देश की प्रकृति बदल रही है। यूरिया का नीम कोटिंग करके बेचा जा रहा है। पहले यूरिया की ब्लैक मार्केटिंग होती थी। पहले खेतों की जगह फैक्टरियों में पहुंचता था। नीम कोटिंग की वजह से यूरिया अब सिर्फ खेतों में जाता है। स्पेस टेक्नोलॉजी में देश ने रिकॉर्ड बनाया है। हमने 104 सेटैलाइट भेजे। हम टेक्नोलॉजी ड्रिवन गवर्ननेंस चाहते हैं। मोदी ने अमेरिका में बसे भारतीयों से कहा कि जो सपने आपने देखें हैं वो हमारी सरकार पूरी करेगी। अब देश गति से आगे बढ़ रहा है।


- जब देश की सामान्य जनता की महत्वाकांक्षा बढ़ जाये तो विकास निर्धारित होता है।

- जब इस महत्वाकांक्षा को उचित नेतृत्व मिल जाता है तो

- आज दुनिया को आतंकवाद समझ आने लगा है। जब हम कहते तो समझ नहीं आता था। आतंकियों ने उन्हें आतंक समझा दिया है।

- हम जब सर्जिकल स्ट्राइक करते हैं तो दुनिया समझती है कि भारत के पास धैर्य है और वो अपनी क्षमताओं को उपयोग कर सकता है।

- सर्जिकल स्ट्राइक पर दुनिया हमारे बाल नोच लेती, हम पर सवाल उठाती। मगर सभी ने हमारी सर्जिकल स्ट्राइक को सही कदम माना। जिसने भुगता उनकी बात अलग है।

- हम दुनिया को समझाने में सफल रहे हैं कि आतंक कहां से और कैसे पालिस पोषित हो रहा है।

- दुनिया भारत को इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन मानता है। 

- क्रेडिट एजेंसी भारत की उपलब्धियों की सराहना करती हैं।

- विदेशों में रह रहे भारतीयों से कहा कि यदि आपको भारत में कुछ करने की आवश्यकता महसूस होती है तो आप आइए आपको अपनी धरती का कर्ज चुकाने का मौका मिलेगा।

- आगे आने वाली पीढियों को भारत से जुडी रहें इस लिए आपको भारत से लगातार जुड़े रहना होगा। भारत के सभी प्रांतों में प्रवासी दिवस मनाये जाते  हैं।