यहां 50 रुपए में बिक रहे हैं लड़कियों के मोबाइल नंबर

नई दिल्ली ( 3 फरवरी ): पूरे देश में महिला सुरक्षा एक अहम मुद्दा है। सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लाख दावे करे, लेकिन असल में जमीनी हकीकत कुछ और ही है। फोन पर होने वाली छेड़छाड़ की घटनाओं के मामले में एक खबर आई है की यूपी में मोबाइल रिचार्ज की दुकानों के माध्यम से महिलाओं की सुरक्षा के साथ कितना बड़ा खिलवाड़ हो रहा है।

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक उत्तर प्रदेश में मोबाइल रिचार्ज की दुकानों पर आने वाली लड़कियों के नंबर 50 रुपए के लिए बेच दिए जाते हैं। नंबरों की यह कीमत लड़कियों के लुक्स पर भी निर्भर करती है अगर कोई लड़की ज्यादा खूबसूरत है तो उसका मोबाइल नंबर उतना मंहगा बिकता है। इस रैकेट का खुलासा तब हुआ जब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा शुरु की गई महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 पर इस बात को लेकर शिकायतें तेजी से बढ़ने लगीं की उन्हें लगातार अनचाहे कॉल आ रहे हैं। इसके बाद यूपी पुलिस ने इस रैकेट का पर्दाफाश किया।

पिछले कुछ सालों में दर्ज शिकायतों में से 90 प्रतिशत फोन पर हरैसमेंट की थीं। लड़कियों को फोन कर दोस्ती के लिए परेशान करने वालों को यह नंबर उन दुकानों से मिलते हैं जहां यह लड़कियां रिचार्ज करवाने के लिये जाती हैं। अगर कोई लड़की काफी सुंदर है तो उसका नंबर 500 रुपए में बिकता है वही साधारण दिखने वाली लड़की का नंबर महज 50 रुपए में उपलब्ध होता है।

इस हेल्पलाइन को स्थापित करने में अहम भूमिका निभाने वाले इंस्पेक्टर जनरल नवनीत सेकरा के मुताबिक नाम न बताना इस पूरे मामले में महत्वपूर्ण बात है। रिचार्ज वाले भैया के नाम से मशहूर लड़कियों को बिना आईडी के मोबाइल नंबर लेने में मदद करते हैं।

ऐसे ही एक आरोपी ने यह माना की उसकी पसंद की एक दुकान है जहां जाकर वो आसानी से नंबर जुगाड़ लेता है। इस पूरे मामले का सबसे दुखद पहलू यह है कि इन मामलों के सामने आने के बाद भी किसी को अब तक जेल नहीं भेजा जा सका है।