राजनाथ सिंह ने खत्म कराया महेश गिरी का अनशन

नई दिल्ली (21 जून): केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने तीन दिन से दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर अनशन पर बैठे बीजेपी सांसद महेश गिरी का अनशन खत्म कराया।

एमएम खान मर्डर केस में केजरीवाल ने महेश गिरी पर एलजी को चिट्ठी लिखने की बात कही थी, जिसके बाद महेश गिरी ने उन्हें खुली बहस की चुनौती दी थी। लेकिन केजरीवाल ने उनकी मांग यह कहते हुए ठुकरा दी कि वह आरोपियों से बात नहीं करते। यहां पर पहुंचे राजनाथ सिंह ने महेश गिरी से अनशन खत्म करने की अपील की, जिसके बाद उन्होंने राजनाथ और सतीश उपाध्‍याय के हाथों से पानी पीकर अनशन तोड़ा।

इसके बाद महेश गिरी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि मैंने कोई भी चिट्ठी नहीं लिखी, अगर केजरीवाल मेरे ऊपर लगाए गए आरोपों को साबित कर दें तो मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा। इसी के साथ उन्होंने कहा कि वह मेरे खिलाफ आरोप लगा रहे थे, लेकिन इससे पहले ही उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई जो इस बात का संदेश है कि अपराधी कौन है।

आपको बता दें कि 400 करोड़ रुपये की रिकवरी के चक्कर में एमएम खान की हत्या की गई। जामिया नगर में जब वह अपनी गाड़ी खड़ी कर रहे थे तो दो हथियारबंद लोगों ने उनकी गोली मारकर हत्‍या कर दी। इसके बाद पुलिस ने 6 लोगों को हिरासत में ले लिया। केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि बीजेपी सांसद महेश गिरी ने आरोपी को बचाने के लिए एलजी को चिट्ठी लिखी थी। हालांकि वह इसके बारे में कोई सबूत पेश नहीं कर पाए।