MP: पार्षद की गिरफ्तारी पर भड़के बीजेपी विधायक, थाने में घुसकर दी धमकी

भिंड (8 जनवरी): मध्यप्रदेश के भिंड में बीजेपी विधायक की दबंगई का मामला सामने आया है। सट्टे खिलाने के आरोप में गिरफ्तार पार्षद की गिरफ्तारी से नाराज विधायक ने कोतवाली में जमकर हंगामा किया। वहीं इसके साथ टीआई को विधायक ने धमकी भी दे डाली।

भिंड कोतवाली थाने में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था। थाने के ग्राउंड से लेकर टीआई के रुम तक इंच भर भी जगह बाकी नहीं थी। लोग थाने का घेराव करने पहुंचे थे और इनकी अगुवाई स्थानीय बीजेपी विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाहा कर रहे थे। विधायक कुशवाहा के साथ समर्थकों की फौज थी। विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाहा अपना आपा खो बैठे। सबके सामने पोस्ट और पॉवर के नशे में चूर विधायक टीआई पर रौब गालिब करने लगे।

सूबे में सरकार बीजेपी की है, पूर्ण बहुमत की सरकार है और दारोगा ने बीजेपी के ही एक पार्षद को गिरफ्तार कर लिया। विधायक को ये बात बेहद नागवार गुजरी। विधायक ये भी भूल गए कि वो जिस पार्टी कार्यकर्ता और पार्षद की तरफदारी कर रहे हैं वो सट्टे खिलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बहरहाल बात यहीं खत्म नहीं हुई इसके बाद विधायक जी ने कोतवाली में धमकी भी दे दी। बोले- कोतवाली में भूस भर देंगे।

धमकी के बाद कोतवाली का नजारा बदल गया। कार्यकर्ताओं में उत्साह भर गया, धमकी कांड के बाद समर्थकों ने विधायक जी के सम्मान में जिंदाबाद के नारे लगाए। इसी दौरान विधायक की नजर उस कैमरे पर गई, जो सारी घटना को कैद कर रहा था। लगे हाथ विधायक ने पत्रकार को भी नसीहत दे डाली। नसीहत तो विधायक दे गए, लेकिन कैमरा तो कैमरा है, नहीं जानता है कि विधायक का रसूख क्या होता है, जो हुआ, वो कैमरे में कैद हो चुका था, जो अब आपके सामने है।

हंगामे के बाद सट्टे खिलाने वाले आरोपी बीजेपी पार्षद को एसडीएम कोर्ट पहुंचाया। जहां उसे जमानत मिल गई, अब कोर्ट में केस चलेगा। लेकिन इस बहाने शिवराज के सुशासन का वो सच सामने आया है, जो बेहद शर्मनाक है।