इतिहास रचने से चूका ये तेज गेंदबाज, तोड़ सकता था 19 साल पुराना रिकॉर्ड

 

 

नई दिल्ली(27 जून): ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचैल स्टार्क इतिहास रचने से चूक गए। रविवार को वेस्टइंडीज के फाइनल मैच में अगर स्टार्क 2 विकेट ले लेते तो सबसे तेज 100 विकेट लेने का कारनामा अपने नाम कर सकते थे। मैच में स्टार्क को एक विकेट भी नहीं मिला। हालांकि स्टार्क के पास अभी भी मौका है कि वह ये रिकॉर्ड तोड़ दें। 

बता दें ये रिकॉर्ड पाकिस्तान के सकलैन मुस्ताक के नाम है। मुस्ताक ने 1997 में अपने 53वें वनडे मुकाबले में 100वां विकेट हासिल किया था। स्टार्क ने अब तक 51 वनडे खेलें हैं। स्टार्क से पहले न्यूजीलैंड के शेन बॉन्ड और ऑस्ट्रेलिया के ब्रेट ली इस रिकॉर्ड के करीब पहुंचे थे लेकिन रिकॉर्ड नहीं बना पाए।

बॉन्ड ने विकेटों के शतक के लिए 54 मैच खेले तो ब्रेट ली को शतकीय विकेट के लिए 55 मैच तक इंतजार करना पड़ा। जहां तक भारतीय गेंदबाजों की बात है तो सबसे तेज 100 विकेट लेने का रिकॉर्ड इरफान पठान के नाम है।उन्होंने 59 मैच में 100 विकेट लिए थे।

स्टार्क ने अब तक 51 वनडे में 98 विकेट झटके हैं। उन्होंने पांच बार पांच विकेट लेने का कारनामा किया है जबकि 6 पर 22 उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। हालांकि इस ट्राई सीरीज में स्टार्क को 4 मैच में 8 विकेट ही हासिल कर पाए हैं।