इस्लामाबाद में चीनी नागरिक की अपहरण के बाद हत्या- बीजिंग की भौंहें तनीं

न्यूज24 ब्यूरो, इस्लामाबाद (20 अप्रैल): चीन भले ही पाकिस्तान में अरबो-खरबों रुपये का निवेश कर रहा है और भारत के हितों की उपेक्षा कर उसके साथ रक्षा और व्यावसायिक संबंधों को आगे बढ़ा रहा है लेकिन पाकिस्तान के आम लोगों के मन में चीन को लेकर वही दुश्मनी का भाव है जो किसी एक काफिर के लिए कट्टरपंथी में होता है। इसका एक ताजा उदाहरण  है 29 साल के एक चीनी नागरिक की हत्या। मिली जानकारी के अनुसार ली जिन क्यांग नाम का युवक चीन से इस्लामाबाद 13 अप्रैल को आया था इस्लामाबाद के पॉश इलाके में  अपने दोस्त के साथ रह रहा था। 

चार दिन पहले  15 अप्रैल को  ली जिन क्यांग कुछ दवाइयां खरीदने के लिए इस्लामाबादके सुप मार्केट   गया और फिर वापस नहीं लौटा। ली जिन क्यांग  की गुमशुदगी के बारे में उसके दोस्त ली गोंग साई ने पुलिस को इत्तला दी लेकिन कोशर पुलिस ने उसकी एफआईआर दर्ज करने के बजाये उसके लौटकर आने का इंतजार करने को कहा। चार दिन बाद पुलिस को पता चला कि एक विदेशी युवक की लाश इकवाल टाउन के नाले में पड़ी है। जब  लाश की  शिनाख्त की गयी तो वो ली जिन क्यांग की थी। 

लाश मिलने के बाद आनन-फानन में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और यह दिखाने की कोशिश की कि लाश की बरामदगी एफआईआर दर्ज होने के कुछ ही घण्टे बाद बरामद कर ली गयी। ली जिन क्यांग के शरीर और माथे पर चोट के निशान थे। इससे पता चलता है कि उसकी हत्या करने से पहले अपहर्ताओं ने उसे यातनाएं भी दीं थीं। चीनी विदेश मंत्रालय ने अपने नागरिक का इस तरह से अपहरण और हत्या किये जाने पर गहरा रोष व्यक्त किया है।

(Images Courtesy:Google)