मिर्जापुर: DM ने खुद उठाया सफाई का बीड़ा, तालाब में उतर कर घंटो की सफाई

न्यूज 24,इंद्रेश पांडेय,मिर्ज़ापुर (16 जुलाई): मिर्जापुर के जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने रविवार को अपनी टीम सहित गंदे तालाब में घुसकर घंटों सफाई की। बता दें कि लोग सांप व बिच्छू के डर से पोखरे में उतरने को तैयार नहीं होते। वहीं, डीएम तालाब में उतरे और दो घंटे तक जलकुंभी को तालाब से निकाला। इस दौरान सीडीओ प्रियंका निरंजन ने तालाब के बाहर सफाई की। मिर्जापुर जिले के डीएम अनुराग पटेल हर कार्य में खुद को आगे रखते है। 

पिछले दिनों उन्होंने विंध्याचल में फावड़ा चलाकर नदी की सफाई की थी। वहीं, आज (14 जुलाई) को जल संचय अभियान के तहत मिर्जापुर जिले में एक साथ सैकड़ों तालाबो से जलकुम्भी निकलवा कर उन्हें साफ करवाया गया। अभियान के तहत सिटी ब्लाक के खरहरा गांव मे पूरे सरकारी अमले के साथ डीएम अनुराग पटेल पहुंचे। डीएम अनुराग पटेल तालाब में घुस कर अपने हाथों से घंटो जल कुम्भी निकाल कर सफाई की। डीएम के साथ उनकी पूरी टीम सफाई करने में लगी हुई थी।

मिर्जापुर में जल संचय, जल जीवन अभियान के तहत पूरे जिले में एक साथ सैकड़ों तालाबों से जलकुम्भी निकाल कर उन्हें साफ करवाया जा रहा है। इस अभियान की कमान जिले के डीएम अनुराग पटेल ने खुद ही संभाल लिया है। अभियान की शुरुआत के लिए सदर ब्लॉक के खरहरा गांव में डीएम अपने पूरे अमले के साथ पहुंचे। डीएम ने अपने कपड़े उतारे और तालाब के गंदे पानी में उतरकर सफाई शुरू की दी। इस दौरान डीएम ने फावड़े से जलकुम्भी खींच-खींच कर तालाब से बाहर निकाला। 

अभियान के तहत डीएम ने अपनी टीम के साथ तालाब में घुसकर घण्टों जलकुम्भी निकालकर सफाई की। जब डीएम पानी में घुसकर सफाई कर रहे थे, उसी वक्त जिले के सीडीओ और दूसरे अधिकारी तालाब के बाहर सफाई कर रहे थे।  तालाबों की सफाई का अभियान पूरे मिर्जापुर में चल रहा है। इस अभियान का मकसद है कि बरसात का पानी ज्यादा से ज्यादा तालाबों में इकट्ठा हो सके और ग्राउंड वाटर रिचार्ज भी हो सके। जिलाधिकारी की इस कोशिश की हर तरफ तारीफ हो रही है। बता दें कि अनुराग पटेल जब फतेहपुर के डीएम थे तो उन्होंने वहां भी जल संचय के लिए काफी काम किया था।