मदरसों को बंद करना हल नहीं, संस्कृत स्कूल भी हों आधुनिक: सीएम योगी

नई दिल्ली(18 जनवरी): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि मदरसों का बंद कोई हल नहीं है, साथ ही उन्होंने कहा कि संस्कृत स्कूल आधुनिक हो। देश के नौ राज्यों के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लखनऊ में अल्पसंख्यकों के विकास का खाका खींचने के लिए एकजुट हुए हैं। इसी कार्यक्रम में सीएम योगी ने ये बयान दिया है। ये सभी अल्पसंख्यक मंत्रियों के इस क्षेत्रीय समन्वय सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मदरसों को बंद करना कोई हल नहीं है, बल्कि उनका आधुनिकीकरण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि मदरसों के साथ-साथ संस्कृत विद्यालयों में आधुनिक बनाया जाना चाहिए। 

- योगी ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के कल्याम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्किल डेपलपमेंट प्रोग्राम चलाया गया है। इसके जरिए अल्पसंख्यक समुदाय के लिए कल्याण के कदम उठाए जा रहे हैं।

-  उन्होंने कहा कि मदरसों को बंद करना कोई हल नहीं है, बल्कि उन्हें आधुनिक किया जाए। मदरसों को कम्प्यूटर से जोड़ना होगा। 

- अल्पसंख्यक मंत्रियों के इस क्षेत्रीय समन्वय सम्मेलन अध्यक्षता केंद्रीय अल्पंसख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी करेंगे और इस सम्मेलन का उद्घाटन सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया।