पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों का हो रहा है नरसंहार !

नई दिल्ली (1 मार्च): पाकिस्तान की एक प्रसिद्ध विद्वान ने कहा कि देश एक धीमे नरसंहार का सामना कर रहा है और यह इस्लामी देश में धार्मिक अल्पसंख्यकों को सबसे खतरनाक तरीके से खत्म कर रहा है।

पाकिस्तानी लेखिका, पत्रकार एवं नेता फरहनाज इस्पहानी ने कहा, भारत एवं पाकिस्तान के बंटवारे से ठीक पहले इस्लाम के अलावा हमारे यहां धर्मों - हिंदु, ईसाई, पारसी का बहुत अच्छा संतुलन था। अब पाकिस्तान में उनकी तादाद पूरी आबादी के 23 प्रतिशत यानि एक तिहाई से गिरकर महज तीन प्रतिशत रह गयी है।