बेटे को एक्सीडेंट में खोया, जिंदगियां बचाने के लिए पिता ने डोनेट किए ऑर्गन्स

नई दिल्ली (19 जुलाई): मंगलवार को तिरुवनंतपुरम से एक 15 वर्षीय ब्रेन-डेड लड़के का दिल ऑर्गन ट्रांसप्लांट के लिए कोची ले जाया गया। 18 जुलाई को विशाल नाम के लड़के को रोड एक्सीडेंट के बाद डॉक्टरों ने मृत घोषित किया था।

- रिपोर्ट्स के मुताबिक, नाबालिग का दिल कोची में लिज़ी हॉस्पिटल के लिए एयरलिफ्ट किया गया।  - इसे पेरीपार्टम कार्डियोमायोपैथी (पीपीसीएम) से पीड़ित एक मरीज़ को ट्रांसप्लांट किया जाएगा। - केरल नेटवर्क फॉर ऑर्गन शेयरिंग से जुडे एक डॉक्टर ने बताया कि लड़के के लिवर और किडनी भी डोनेट किए जाएंगे। - विशाल के पिता ने काफी दुख के बाद भी उसके अंगों को डोनेट करने का फैसला किया। जिससे कि किसी की जान बच सके।  - विशाल का दिल एर्नाकुलम के लिज़ी हॉस्पिटल, लिवर केरल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस हॉस्पिटल और दोनों किडनियां गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, त्रिवेंद्रम को डोनेट की गईं।