नाबालिग लड़की की डाॅक्टरों ने की जांच, तो हुए कई खुलासे

नई दिल्ली ( 5 फरवरी ): एक लड़की अचानक अपने घर से गायब हो गई थी और जब वह घर नहीं लौटी तो उसके पिता ने पुलिन थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई। शिकायत के राज खुला। आरंग पुलिस के अनुसार नाबालिग लड़की के पिता ने 15-20 दिन पूर्व शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी बेटी अचानक घर से गायब हो गई है। परिजनों ने थाना पलारी ग्राम खरतोरा निवासी युवक ओमप्रकाश साहू पिता बिसरूराम साहू (22 वर्ष) पर अपहरण करने का संदेह जाहिर किया था। नाबालिग लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाले खरतोरा के फरार युवक को आरंग पुलिस ने नागपुर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर जांच प्रकरण में लिया था। इस दौरान आरंग पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी युवक व युवती नागपुर (महाराष्ट्र) में रहकर मकान के लिपाई -पोताई (पुट्टी लगाने) का काम कर रहा है। आरंग थाना प्रभारी ने रणनीति तैयार कर एएसआई अरुण कुमार भोई के नेतृत्व में टीम नागपुर रवाना किया।

टीम ने संबंधित जगह पर दबिश देकर आरोपी युवक ओम प्रकाश साहू तथा नाबालिग लड़की को नागपुर से बरामद किया। दोनों का डॉक्टरी परीक्षण कर आरोपी युवक के खिलाफ धारा 363, 366, 367 के तहत कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया। वहीं नाबालिग लड़की को उनके परिजनों को सौंप दिया गया।

आरोपी युवक व नाबालिग लड़की को नागपुर से गिरफ्तार किया गया। दोनों वहां पुट्टी लगाने का कार्य करते थे। युवक व युवती का डॉक्टरी परीक्षण किया गया। पास्को एक्ट व अनु.जाति अत्याचार अधिनियम के धारा भी लगाया गया है। नाबालिग लड़की 15-20 दिनों बाद बालिग होने वाली थी। युवक को जेल भेज दिया गया है।