हैक नहीं हुईं रक्षा और गृह मंत्रालय की वेबसाइटें, तकनीकी खामी के कारण हुईं डाउन

नई दिल्ली ( 6 अप्रैल ): भारत के साइबर सिक्यॉरिटी चीफ ने कई सरकारी वेबसाइटों के डाउन होने के पीछे साइबर अटैक्स की रिपोर्टों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि हार्डवेयर फेल होने के कारण साइटें डाउन हो गई थीं। आपको बता दें कि कई घंटे डाउन रहने के बाद अब सभी सरकारी वेबसाइटें सामान्य रूप से काम कर रही हैं।

सरकार के अलग-अलग मंत्रालयों की करीब 6 से ज्यादा सरकारी वेबसाइट शुक्रवार शाम डाउन हो गई। जिसमे रक्षा और गृह मंत्रालय समेत कई और मंत्रालय शामिल है। सबसे पहले रक्षा मंत्रालय की साइट हैक होने की खबर आई और फिर एक के बाद एक दूसरी साइटें भी डाउन होती चली गई। 

हैक की संभावना को नकारते हुए राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा संयोजक गुलशन राय ने कहा है कि रक्षा और गृह मंत्रालय सहित किसी भी सरकारी वेबसाइट को हैक नहीं किया गया है, इनमें सिर्फ कुछ हार्डवेयर से संबंधित समस्या आई है।

शुरुआत में समझा गया कि रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट हैक हो गई है. इस वेबसाइट के हैक होने के बाद कई अन्य शीर्ष मंत्रालयों की वेबसाइट स्लो हो गई। सबसे पहले रक्षा मंत्रालय ( https://mod.gov.in/) की वेबसाइट हैक होने की खबर आई। 

वेबसाइटों में आ रही परेशानी पर स्थिति साफ करते हुए राय ने कहा कि ये दोपहर से बंद हैं। स्टोरेज क्षेत्र नेटवर्किंग प्रणाली की विफलता की वजह से इन वेबसाइटों में समस्या आ रही है। राय ने कहा कि इस समस्या को दूर किया जा रहा है। यह सिर्फ हार्डवेयर के फेल होने का मामला है। साइबर सुरक्षा इकाई के प्रमुख ने कहा, 'न तो हैकिंग हुई है न ही यह साइबर हमला है।