मंत्री के रसोईये ने 8 महीने में कमाए 103 करोड़

चंडीगढ़ (6 जून): एक बार फिर ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें खुलासा हुआ है कि अगर आपके सिर पर किसी रसूखदार का हाथ है तो आप कुछ ही दिनों में करोड़पति बन सकते हैं। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि पंजाब के ऊर्जा मंत्री राणा गुरजीत सिंह का पूर्व कुक अमित बहादुर सुर्खियों में हैं।

कुछ समय पहले उसका नाम 1,026 करोड़ रुपये के खनन घोटाले में आया था, ले‍किन इस बार खबर है कि उसने महज 8 महीनों में अपने टेक्सटाइल के कारोबार का टर्नओवर 20 करोड़ रुपये से 103 करोड़ तक पहुंचाया।

टर्नओवर में तेजी का खुलासा आरजे टेक्सफैब की बैलेंस शीट से हुआ, अमित बहादुर इस कंपनी में डायरेक्टर है। बहादुर 8 अगस्त, 2015 से इस कंपनी में डायरेक्टर के पद पर है।

- साल 2013-14 में कंपनी कंपनी ने 3.9 करोड़ रुपये का कारोबार किया।

- 2014-15 में कारोबार का आकार 20.38 करोड़ रुपये रहा।

- अमित के डायरेक्टर बनने के बाद साल 2015-16 में कंपनी की आय 103.81 करोड़ रुपये तक पहुंच गई।

- 2014-15 में कंपनी का मुनाफा 14,503 रुपये था।

बहादुर उन 4 लोगों में से एक है, जो या तो मंत्री गुरजीत की चीनी मिलों में काम करते हैं या पहले काम कर चुके हैं। ये लोग 50 करोड़ रुपये तक के खनन ठेके हासिल कर चुके हैं, जबकि इनकी सालाना आय 6 लाख रुपये से ज्यादा नहीं रही।

बहादुर के आईटी रिटर्न और सैलरी स्लिप्स के मुताबिक, साल 2015-16 में उनकी आय 92,676 रुपये थी। बहादुर ने 26.5 करोड़ रुपये का ठेका हासिल किया, 13.5 करोड़ रुपये की उसकी पहली किस्त भी जमा कर दी, जबकि अप्रैल 2017 में उसके इंडसइंड बैंक खाते का बैलेंस महज 4,840 रुपये था।