गाय के दूध से इफ्तार पार्टी करेगा RSS

नई दिल्ली(21 मई): राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुस्लिम विंग ने समुदाय के लोगों को जोड़ने के लिए इस साल रमजान के मौके पर इफ्तार पार्टी के आयोजन का फैसला लिया है।

- राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने नया प्रयोग करते हुए गाय के दूध और उससे बने उत्पादों को ही इस इफ्तार पार्टी में परोसने का फैसला लिया है। मंच का कहना है कि गाय को बचाने और उसका मीट खाने से विभिन्न बीमारियां होने के संदेश को देने के लिए यह फैसला लिया गया है।

- राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के यूपी और उत्तराखंड के संयोजक महिराज ध्वज सिंह ने कहा कि ऐसा पहली बार होगा, जब लोग गाय का दूध पीकर रोजा खत्म करेंगे।

- आरएसएस के पूर्व सरसंघचालक के.सी सुदर्शन की पहल पर 2002 में राष्ट्रीय मुस्लिम मंच की स्थापना की गई थी। सिंह ने कहा, 'इफ्तार पार्टी में गाय के दूध और अन्य डेयरी प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल पर जोर रहेगा। यह पहला मौका होगा, जब उत्तर प्रदेश में इस तरह की इफ्तार पार्टी का आयोजन किया जाएगा।'

-  गाय के दूध के लाभ बताते हुए उन्होंने कहा, 'यहां तक कि मुस्लिम विद्वान भी मानते हैं कि गाय का दूध स्वास्थ्य के लिए अच्छा है और उससे बना घी दवाई का काम करता है। कई आयुर्वेदिक दवाओं के निर्माण में इस घी का इस्तेमाल किया जाता है।'

- मुस्लिम मंच के संयोजक ने कहा कि रमजान के मौके पर नमाज के दौरान गायों के संरक्षण की अपील की जाएगी। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सीनियर अधिकारी ने कहा, 'पशु, पक्षी, पेड़ और पौधों समेत सभी जीव अल्लाह की देन हैं। यदि हम इनके प्रति मानवीय रवैया अपनाते हैं तो अल्लाह का करम हासिल होगा।'