मिस्र में आतंकी हमलाः काप्टिक इसाईयों के वाहन को बनाया निशाना, 28 की मौत

नई दिल्ली (27 मई): मिस्र में सेना की वर्दी पहने नकाबपोश आतंकवादियों ने कॉप्टिक ईसाइयों को ले जा रहे वाहनों पर अंधाधुंध गोलीबारी की जिसमें कम से कम 28 व्यक्तियों की मौत हो गई। मारे गए व्यक्तियों में कई बच्चे हैं। देश में करीब दो महीनों में ईसाई समुदाय पर होने वाला यह दूसरा बड़ा हमला है।

मिस्र के गृह मंत्रालय ने कहा कि नकाबपोश बंदूकधारियों ने एक बस और अन्य वाहनों पर हमला किया जिनमें कॉप्टिक ईसाई काहिरा से 250 किलोमीटर दक्षिण में अंबा सैमुअल मॉनिस्टरी जा रहे थे। गृह मंत्रालय ने बताया कि बंदूकधारी तीन वाहनों पर सवार थे।


मिस्र के मीडिया ने कहा कि हमले में 28 ईसाइयों की मौत हो गई और 23 अन्य घायल हो गए। सूत्रों एवं प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि मारे गए व्यक्तियों में अधिकतर बच्चे हैं। अल मिन्या के बिशप ने मिस्र के एक निजी टेलिविजन चैनल डीएमसी को बताया कि मृतकों में बच्चों से लेकर 60 वर्ष से अधिक के व्यक्ति हैं। ऑर्थोडॉक्स चर्च के एक सूत्र ने अल अहरम समाचारपत्र को बताया कि मृतकों में कई बच्चे शामिल थे। हमले में मात्र तीन बच्चे ही बचे।