अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किए जाने से चिढा सलाउद्दीन, अमेरिकी को बोला 'मूर्ख'


नई दिल्ली(2 जुलाई): अमेरिका द्वारा अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किए गए हिज्बुल मुजाहिदीन का सरगना सैयद सलाउद्दीन ने अभी भी हेकड़ी दिखानी जारी रखी है। खुद को आतंकी घोषित किए जाने की निंदा करते हुए सलाउद्दीन ने कहा कि वह कश्मीर के मसले पर सशस्त्र संघर्ष को अपना समर्थन जारी रखेगा।


- सलाउद्दीन ने डोनल्ड ट्रंप प्रशासन द्वारा खुद को वैश्विक आतंकी घोषित करने के फैसले को 'मूर्खतापूर्ण' बताया।


- हिज्बुल सरगना ने कहा कि यह अमेरिकी दौरे पर गए भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी को दिया गया तोहफा था। पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के मुजफ्फराबाद में सलाउद्दीन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शनिवार को कहा, 'वे हमें आतंकी घोषित करने के लिए सबूत के तौर पर एक घटना का जिक्र भी नहीं कर सकते हैं। इस मूर्खतापूर्ण फैसले से हमारा विश्वास नहीं टूटने वाला है। हम कश्मीर के मसले पर जिहाद जारी रखेंगे।'


- गौरतलब है कि अमेरिका ने पीएम मोदी के वॉशिंगटन में राष्ट्रपति ट्रंप से मिलने से पहले सलाउद्दीन को आतंकी घोषित कर दिया था। अमेरिका के इस कदम का पाकिस्तान ने विरोध किया था और हिज्बुल सरगना का बचाव किया था। पाकिस्तान ने हालांकि सलाउद्दीन को किसी प्रकार से मदद करने से इनकार किया, लेकिन कहा था कि वह कश्मीर के लिए अपना कूटनीतिक और नैतिक समर्थन जारी रखेगा।