अमेरिका की सऊदी अरब से अपील, कहा- कतर पर से हटाए प्रतिबंध

रियाद (30 अप्रैल): अमेरिका ने सऊदी अरब और कतर के बीच जारी विवाद को खत्म करने की पहल की है। अपने पहले विदेशी दौरे पर सऊदी अरब पहुंचे अमेरिका के नए विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने विदेश मंत्री आदिल अल जुबैर से कतर पर लगे प्रतिबंध को हटाने की अपील की है। उन्हों कहा अब विवाद को समाप्त करने की जरूरत है।

आपको बता दें कि पिछले साल जून में सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात समेत खाड़ी के कुछ देशों ने कतर पर प्रतिबंध लगाए थे। सऊदी और यूएई ने कतर पर आतंकवाद के लिए फंडिंग करने, ईरान से संबंध बढ़ाने और विद्रोहियों का साथ देने का आरोप लगाया था। गौरतलब है कि पोम्पेओ से पहले अमेरिका के विदेश मंत्री रहे रेक्स टिलर्सन ने भी विवाद को हल करने के लिए मध्यस्थता की कोशिश की थी लेकिन सफलता नहीं मिली थी।

दरअसल अमेरिका की ओर से हुई इस पहल का सबसे बड़ा कारण मिड्ल ईस्ट की कुछ प्रमुख घटनाओं को प्राथमिकता देना है। अमेरिका फिलहाल ईरान से निपटने, इराक और सीरिया में स्थिति बेहतर बनाने, इस्लामिक स्टेट के बचे हुए आतंकियों को हराने और यमन में गृह युद्ध को समाप्त करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। इसके लिए खाड़ी देशों का एकजुट और मजबूत होना जरूरी है। पोम्पेओ जिस दिन रियाद पहुंचे उसी दिन यमन में विद्रोही हौथी सेनाओं ने सऊदी के जिजान प्रांत में आठ मिसाइलों को मार गिराया।

यमन की बिगड़ती स्थिति अमेरिका के लिए चिंता का विषय है। अमेरिका के प्रभावी सीनेटर्स ने सऊदी अरब को हथियारों की बिक्री पर पाबंदी लगाने के लिए चर्चा करना शुरू कर दिया है। सऊदी के कमजोर हवाई हमले और यमन के पोर्टों पर पाबंदी लगाने से यमन में मानवीय स्थिति काफी खराब हुई है।