भविष्य में कोई हिंदू बन सकता है अमेरिका का राष्ट्रपति : बराक ओबामा

नई दिल्ली ( 19 जनवरी ): अमेरिका के राष्ट्रपति बराब ओबामा ने व्हाइट हाउस में अपनी आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मुझे उम्मीद है कि आने वाले समय में अमेरिका का राष्ट्रपति कोई हिंदु, महिला, यहूदी या फिर लैटिन अमेरिका समुदाय का हो सकता है।

ओबामा ने देश में नस्लीय विविधता का समर्थन करते हुए कहा कि आने वाले समय में कोई हिंदू भी अमेरिका का राष्ट्रपति बन सकता है तथा इसके अलावा कोई महिला, यहूदी या लैटिन भी अमेरिका का राष्ट्रपति बन सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिका सबको समान अवसर प्रदान करता है। जिस शख्स में काबिलियत होती है वह अपनी नस्ल और विश्वास को पीछे छोड़कर आगे बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि यही अमेरिका की ताकत है और यह अवसर हर व्यक्ति के लिए हैं। उनका यदि हम सभी के लिए अवसर खुले रखते हैं तो वह दिन दूर नहीं है जब हमें एक महिला राष्ट्रपति मिलेगी, हमें एक लैटिन राष्ट्रपति और हमें एक यहूदी, एक हिंदू राष्ट्रपति मिलेगा।’’

ओबामा ने यह जवाब उस सवाल के उत्तर में दिया जिसमें पूछा गया था कि क्या उनके बाद भी कोई और अश्वेत भी राष्ट्रपति पद पर पहुंच सकता है। ओबामा ने कहा, "हकीकत यह है कि हमने सभी को मौका देना जारी रखा है। ऐसा ही चलता रहा तो जल्द ही अमेरिका को महिला राष्ट्रपति भी मिलेगी भी मिलेगी। मुझे लगता है कि एक वक्त में हमारे पास कई समुदायों के लोग राष्ट्रपति बनने लायक काबिल लोग होंगे। ये तो लोगों को पता भी नहीं होगा कि वे किसे कुर्सी पर बैठाने वाले हैं।"