बुरहान वानी के परिवार को 4 लाख की मदद देगी महबूबा सरकार

नई दिल्ली (14 दिसंबर): हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान के बड़े भाई खालिद की मौत पर चार लाख रुपये की अनुग्रह राशि जारी की गई है। डेढ़ साल पहले त्राल के जंगल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के दौरान क्रॉस फायरिंग में उसकी मौत हुई थी। हालांकि उसके पिता ने पैसा लेने से इन्कार करते हुए कहा कि सरकार अगर तीसरे बेटे के लिए नौकरी का इंतजाम करती है तो वह उस पर विचार कर सकते हैं।

बुरहान मुजफ्फर वानी इसी साल आठ जुलाई को अपने दो साथियों संग मारा गया था। उसकी मौत के बाद से ही कश्मीर में सिलसिलेवार बंद पिछले पांच माह से जारी है। जिला उपायुक्त पुलवामा के कार्यालय ने बीते दो वर्षो के दौरान आतंकी हमलों का शिकार बने लोगों को मुआवजा जारी किया है। इस सूची में खालिद मुजफ्फर वानी का नाम क्रमांक नौ पर है।

खालिद मुजफ्फर वानी 13 अप्रैल 2015 को त्राल के जंगल में मारा गया था। वह अपने चार साथियों के साथ कथित तौर पर पिकनिक मनाने गया था। उस समय वहां बुरहान भी आया था। इसी दौरान हुई मुठभेड़ में खालिद की क्रॉस फायरिंग में मौत हुई थी। खालिद के परिजनों ने पुलिस पर उसे हिरासत में मारने का आरोप लगाया था।