भाजपा से गठबंधन पर पहली बार ये बोलीं महबूबा मुफ्ती

नई दिल्ली (8 मार्च): पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने भाजपा के साथ सरकार बनाने का बड़ा संकेत दिया है। उन्होंने कहा कि उनके पिता मुफ्ती सईद का भाजपा के साथ गठबंधन करने का निर्णय उनके लिए एक वसीयत की तरह है। इसे अमल में लाना है, भले ही ऐसा करते हुए उन्हें कुछ भी हो जाये। महबूबा मुफ्ती ने कहा, मेरे लिए मेरे पिता का निर्णय पत्थर की लकीर है।

महबूबा ने जोर देकर कहा कि उनके पिता का निर्णय सदैव राज्य के लोगों के हित में हुआ करता था। इसी निर्णय के तहत दोनों दलों के बीच गठबंधन के एजेंडा को क्रियान्वित करना है और राज्य के लोगों को लाभ पहुंचाना है। उन्होंने कहा, सईद का भाजपा के साथ सरकार बनाने के लिए गठबंधन करना राज्य की एकता को कायम रखने तथा शांति एवं विकास के लिए था। महबूबा ने कहा, वह तभी सरकार बनाएंगी जब वे महसूस करेंगी कि उनके पिता का स्वप्न पूरा हो रहा है। महबूबा ने कहा कि उन्हें कुर्सी की जरूरत नहीं है, क्योंकि उनकी ऐसी कोई महत्वकांक्षा नहीं है। यदि होती, तो वो अपने सईद साहब के जीवनकाल में ही कुर्सी ले लेतीं होती। मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद राज्य में आठ जनवरी से राज्यपाल शासन लागू है।