सरकार बनाने के लिए महबूबा ने रखी केंद्र के सामने शर्त

जम्मू (2 फरवरी): माना जा रहा था कि जम्मू-कश्मीर में जल्‍द ही सरकार बनने का रास्‍ता साफ हो जाएगा, लेकिन पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल एनएन वोहरा से मुलाकात के बाद कहा कि वह नई सरकार को गति देने के वास्ते केंद्र से राज्‍य के तीनों हिस्सों (जम्मू, कश्मीर और लद्दाख) के लिए आपसी विश्वास बहाली के उपाय चाहती हैं।

महबूबा ने पार्टी सांसद मुजफ्फर हुसैन बेग के साथ राज्यपाल एनएन वोहरा से करीब 45 मिनट मीटिंग की। इसके बाद राजभवन के बाहर आकर उन्‍होंने कहा कि वह केंद्र से तीनों हिस्सों के लिए आपसी विश्वास बहाली के उपाय चाहती हैं। हालांकि, उन्होंने इन उपायों का खुलासा करने से इनकार कर दिया। पीडीपी अध्यक्ष ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की स्थिति अन्य राज्यों से बिल्कुल भिन्न है। यहां कई तरह के दबाव हैं। ऐसे में वह चाहती हैं कि केंद्र उनके साथ पूरी मजबूती के साथ खड़ा हो।

पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी महबूबा मुफ्ती ने कहा कि उनके पास पिता जैसे अनुभव और दूरदर्शिता नहीं है। इसलिए वह चाहती हैं कि प्रदेश की जनता का विश्वास हासिल करने के लिए कुछ उपाय किए जाएं। मुफ्ती ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल को सारी स्थिति से अवगत करा दिया है।

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद का सात जनवरी को निधन हो गया था, जिसके बाद से राज्य में सरकार गठन को लेकर अनिश्चितता का माहौल है। पीडीपी और भाजपा के सरकार गठन में नाकाम रहने के बाद वोहरा ने आठ जनवरी को राज्य में राज्यपाल शासन लागू किया था। मुफ्ती मोहम्मद सईद के नेतृत्व में पीडीपी और भाजपा गठबंधन में सरकार चला रही थी।