टूट सकता है BJP-PDP गठबंधन, महबूबा मुफ्ती ने दिए संकेत

नई दिल्ली (5 फरवरी): जम्मू-कश्मीर में सियासी तोड़ जोड़ के बीच पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ने के संकेत दिए हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले करीब एक महीने से सरकार बनाने पर चल रही खींचतान के बीच महबूबा ने शुक्रवार को अहम बयान दिया। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा की तरफ से जल्‍द ही विश्‍वास बहाली से जुड़े कदमों की घोषणा नहीं की गई तो वह भाजपा से नाता तोड़ सकती हैं। महबूबा ने इशारा करते हुए कहा कि अगर केंद्र सरकार गठबंधन पर विश्वास बहाली के उपायों को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाती है कि राज्य में भाजपा से पीडीपी का नाता टूट सकता है। 

महबूबा ने जम्‍मू में पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक में कहा, "आप हवा में सरकार नहीं बना सकते। मुद्दा यह है कि कैसे एक बढिय़ा माहौल तैयार किया जाए ताकि नई सरकार बने तो लोगों के बीच प्रतिष्‍ठा कायम करने का रास्‍ता तैयार हो सके। इसके लिए आपके पास सरकार का समर्थन होना चाहिए। अगर हमें यह मिलता है तो ठीक है, नहीं तो हम आगे बढ़ेंगे, जैसा कि हम अभी तक करते आए हैं।"

पार्टी नेताओं के साथ एक बैठक में महबूबा ने कहा कि नए उपाय इसलिए किए जा रहे हैं कि नई सरकार के सामने एक सकारात्मक माहौल बनाया जा सके। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं समझना चाहिए कि यह ब्लैकमेल की रणनीति है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद से ही राज्य में सरकार निर्माण को लेकर पीडीपी-भाजपा गठबंधन में नए सिरे से खींचतान शुरू हो गई है।

जम्मू-कश्मीर में फिलहाल गवर्नर शासन लागू है। विपक्षी दल के तौर पर नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस पीडीपी-भाजपा पर लगातार सरकार निर्माण को लेकर दबाव बना रही है। दूसरी तरफ महबूबा मुफ्ती गठबंधन की सरकार को आगे बढ़ाने से पहले नेशनल पावर प्रोजेक्ट्स को राज्य सरकार को सौंपने और कई दूसरे पैकेज को लेकर केंद्र से ठोस आश्वासन चाहती हैं।