मिलिए इस शख्स से, CAT परीक्षा में मिले पूरे अंक

नई दिल्ली(12 जनवरी): कैट 2015 परीक्षा के परिणाम घोषित हो गए हैं। नतीजे आने के बाद किसी को खुशी मिली तो किसी को असफलता हाथ लगी। लेकिन एक ऐसा भी छात्र रहा जिसको पूरे के पूरे अंक मिले। शुरुआत में एमबीए नहीं करने की इच्छा रखने वाले वीवी गिरी ने कैट में सफलता मिलने के बाद अपना इरादा बदल दिया।

मूलत बैंगलुरू के रहने वाले 32 साल के गिरी जबलपुर और इटारसी में पढ़ाई की। यहां पर उनके पिता वेकेंट एक फैक्ट्री में वेज्ञानिक थे। गिरी ने दसवीं के बाद भोपाल से इलेक्ट्रिकल इंजिनीयिरंग में डिप्लोमा किया, इसके बाद वे विदिशा से इंजिनीयरिंग में स्नातक करने चले गए।

2005 में ये करने बाद वे अपनी पत्नी के साथ एक कोचिंग संस्था में एक ट्रैनर के तौर पर काम कर रहे। वहां पर काम करने के दौरान गिरी 2013 और 2014 में कैट परीक्षा में बैठे और 99.85 और 99.83. परसेंटाइल लाए। लेकिन 2015 तो कुछ अलग ही रहा।