MCD चुनाव: 116 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज और 30 फीसदी हैं करोड़पति

नई दिल्ली ( 19 अप्रैल ): दिल्ली में 23 अप्रैल को होने जा रहे एमसीडी चुनाव के लिए तमाम अपराधिक छवि वाले उम्मीदवार मैदान में जो आजमाइश कर रहे हैं। कई ऐसे उम्मीदवार भी मैदान में हैं जिनके खिलाफ हत्या की कोशिश, अपहरण और बलात्कार के मुकदमे भी दर्ज हैं। कई करोड़पति भी चुनाव मैदान में हैं तो कई ऐसे भी उम्मीदवार हैं जिनका यह दावा है कि उनके पास किसी तरह की कोई दौलत ही नहीं है।


एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने यह रिपोर्ट तैयार की है। यह जानकारी खुद उम्मीदवारों ने अपने हलफनामे में दाखिल की है जिसके आधार पर एडीआर ने यह रिपोर्ट तैयार की है जिसमें उम्मीदवारों की संपत्ति और अपराधिक रिकॉर्ड का ब्यौरा दर्ज है।


एमसीडी के चुनाव में कुल 2547 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें से 2315 उम्मीदवारों के हलफनामे की जांच एडीआर ने की है। बाकी उम्मीदवार के हलफनामे अभी उपलब्ध नहीं होने की वजह से उनकी जांच नहीं हो पाई है।


दिल्ली नगर निगम चुनाव में किस्मत आजमा रहे 2315 उम्मीदवारों में से 697 उम्मीदवार करोड़पति हैं। इतना ही नहीं कुल 30 फीसदी करोड़पति उम्मीदवार हैं।


एडीआर के रिसर्च के अनुसार

जो उम्मीदवार मैदान में हैं उनमें से 7 फीसदी यानी 122 प्रत्याशी ऐसे हैं जिनके खिलाफ अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। 116 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ गंभीर अपराधों के मुकदमे दर्ज हैं।


15 उम्मीदवारों के खिलाफ हत्या की कोशिश, 7 के खिलाफ अपहरण और 23 उम्मीदवारों पर बलात्कार और महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले दर्ज हैं।


अपराधिक छवि वाले सबसे ज्यादा उमीदवार कांग्रेस पार्टी के हैं। कांग्रेस के 14 फीसद उम्मीदवारों के खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज हैं। BJP के 10 फीसदी, आम आदमी पार्टी के 7 फीसदी और बहुजन समाज पार्टी के 8 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं।