मायावती ने किया जाटों का समर्थन, हिंसा खत्म करने की मांग की

लखनऊ (21 फरवरी): बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने जाटों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए उनके आंदोलन को समर्थन देने की घोषणा की है।

मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी जाटों के आरक्षण की मांग को जायज मानती है। उन्हें बसपा का पूरा समर्थन है, लेकिन जाटों को भी अपना आंदोलन अहिंसात्मक रखना चाहिए। उन्होंने जाटों पर फायरिंग की निंदा करते हुए कहा कि जाट समुदाय कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के आरक्षण सम्बंधी आश्वासनों पर अब और ज्यादा भरोसा करने को तैयार नहीं है। जाटों को तत्काल आरक्षण मिलना चाहिए।

जाटों के आंदोलन को कुचलने के लिए हरियाणा सरकार की दमनात्मक रवैये की निंदा करते हुए बसपा अध्यक्ष ने कहा कि आंदोलन को कुचलने के बजाय आंदोलनकारियों को बुलाकर बात करनी चाहिए थी। उन्होंने आंदोलनकारियों से अपने संघर्ष को योजनाबद्ध तरीके से अनुशासित और शांतिपूर्ण चलाने की अपील की। उनका कहना था कि इससे आंदोलन को और समर्थन मिलेगा।